IPL 12 क्वालीफायर 2 : जीत के साथ 8वीं बार फाइनल में चेन्नई, टूटा दिल्ली का सपना

CSK vs DC Qualifier 2 Match Summary in Hindi : आईपीएल 12 के दूसरे क्वालीफायर मुकाबले में क्वालीफायर 1 में हारने वाली टीम चेन्नई सुपर किंग्स और एलिमिनेटर मैच की विजेता टीम रही दिल्ली कैपिटल्स विशाखापट्नम में आमने सामने हुई। दोनो टीम दूसरी बार क्वालीफायर 2 में भीड़ रही थी। इससे पहले चेन्नई – दिल्ली 2012 के क्वालीफायर 2 में भिड़ी थी। वहां चेन्नई ने बड़े अंतर से हराते हुए दिल्ली को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया था।

CSK vs DC Qualifier 2 Match Summary in HindiImage Source

आज दिल्ली के पास हिसाब बराबर करते हुए फाइनल में जाने का बेहतरीन मौका था, लेकिन दिल्ली इसमें नाकाम रही। चेन्नई ने इतिहास दोहराते हुए रिकॉर्ड 8वीं बार आईपीएल के फाइनल में जगह बना लिया।

v, क्यों कि दिल्ली के कप्तान अय्यर भी टॉस जीत कर बल्लेबाज़ी ही करना चाहते थे। दिल्ली इस मुकाबले में पिछले ही वाली टीम के साथ आई थी। वहीं चेन्नई ने मुरली विजय के स्थान पर तेज़ गेंदबाज़ शार्दूल ठाकुर को मौका दिया था।

पृथ्वी शॉ और शिखर धवन की जोड़ी पारी की शुरुआत करने आई। दोनो की शुरुआत से लगा कि दिल्ली बड़े स्कोर की ओर जाएगी। लेकिन जल्द ही यह भ्रम टूट गया। तीसरे ही ओवर में 21 के स्कोर पर पिछले मैच में अर्धशतक लगाने वाले पृथ्वी शॉ 6 गेंद में 5 रन बना कर आउट हो गए। जल्दी ही करारा झटका शिखर धवन के रूप में भी लग गया। धवन 37 के स्कोर पर 14 गेंद में 3 चौके की मदद से 18 रन बना कर आउट हो गए।

dc battingImage Source

दिल्ली की शुरुआत पॉवर प्ले में बेहद खराब रही। 6 ओवर में 41 रन जोड़ कर 2 महत्वपूर्ण विकेट बJ कही दिया। दिल्ली के लिए मुश्किल और तब बढ़ गयी जब 57 के स्कोर पर 9वें ओवर में कॉलिन मनरो 24 गेंद में 27 रन बना कर आउट हो गए। 80 के स्कोर तक जाते जाते दिल्ली श्रेयस अय्यर  18 गेंद में 13 और अक्षर पटेल 6 गेंद में 3 रन आया विकेट गंवा कर अपने 5 विकेट खो दिया। ऋषभ  पंत 25 गेंद में 38 को छोड़ कर कोई भी बल्लेबाज नही टिक सका। इशांत 3 गेंद में 10 रन बनाए। दिल्ली 20 ओवर में 9 विकेट खो कर 147 रन ही बना पाई।

चेन्नई की गेंदबाजी काफी नियंत्रित रही। दीपक चहर आज फिर शुरुआती झटके देने में सफल रहे। इन्होंने 4 ओवर में 28 रन दे कर 2 विकेट लिए। हरभजन सिंह, रविन्द्र जडेजा और ड्वेन ब्रावो ने भी काफी किफायती गेंदबाज़ी करते हुए 2 – 2 विकेट निकाले। ताहिर को 4 ओवर में 28 रन दे कर 1 विकेट लिए।

CSK BattingImage Source

चेन्नई के सामने 148 का लक्ष्य कोई मुश्किल लक्ष्य नही लग रहा था। इनके ओपनर्स ने इस टारगेट को और भी आसान कर दिया। काफी लंबे समय से फॉर्म से बाहर चल रहे सेन वाटसन आज बेहतरीन बल्लेबाज़ी करने में सफल रहे। फॉफ डू प्लेसिस और वाटसन की जोड़ी ने चेन्नई को बेहतरीन शुरुआत दिलवाई। दोनो ने पॉवर प्ले में 42 रन जोड़े।

इसके बाद इन दोनों ने रन गति तेज़ कर दी। जब 10.2 ओवर में दोनो के बीच 81 रन की साझेदारी हो चुकी थी, तब प्लेसिस अपना अर्धशतक पूरा कर के आउट हो गए। प्लेसिस ने 39 गेंद में शानदार 50 रन बनाए। चेन्नई को दूसरा झटका सेन वाटसन के रूप में 109 पर लगा।  तब तक वाटसन अपना काम कर चुके थे। उन्होंने भी 32 गेंद में ही 3 चौके और 4 छक्के की मदद से 50 रन कि पारी खेली।

दो विकेट जाने के बाद भी मैच चेन्नई के कब्जे में दिख रहा था। इसके बाद 127 पर रैना 13 गेंद में 11 रन बना कर आउट हुए। फिर धोनी और अंबाति रायुडू ने मिल कर टीम को जीत की दहलीज पर ला खड़ा किया। धोनी जीत से 3 रन पहले 9 गेंद में 9 रन बना कर गए। इसके बाद भी चेन्नई 6 गेंद और 6 विकेट बाकी रहते मैच अपने नाम कर लिया। रायुडू 20 गेंद में 20 रन बना कर नाबाद रहे।

इस तरह जहां चेन्नई 8वीं बार फाइनल में जगह बनाने में कामयाब रही। वहीं दिल्ली का पहली बार फाइनल खेलने का सपना चकनाचूर हो गया। अब चेन्नई 12 मई को हैदराबाद में मुंबई के खिलाफ भिड़ेगी।

दिल्ली की गेंदबाजी शुरुआत में काफी नीरस रही। इनके गेंदबाज विकेट नही ले पाए। साथ ही रन पर भी लगाम नही लगा पाए। इसका नतीजा रहा कि मैच चेन्नई उड़ा ले गयी। कीमो पॉल 3 ओवर में 49 रन लुटा गए। बाकी ट्रेंट बोल्ट, इशांत शर्मा, अक्षर पटेल और अमित मिश्रा ने अच्छी गेंदबाजी करते हुए 1 – 1 विकेट निकाले। फिर भी ये प्रदर्शन दिल्ली को फाइनल में ले जाने के लिए नाकाफी साबित हुआ।

Also Check:

Leave a Reply

Your email address will not be published.