IPL 12 फाइनल : मुंबई इंडियंस के सर सजा IPL 12 का ताज, बनी चौथी बार चैंपियन

MI vs CSK Final Match Summary in Hindi : IPL 12 आखिरकार अपने एक और कामयाब सफर को तय करने के बाद खत्म हो गया। फाइनल मुकाबले में 3 – 3 बार की चैंपियन टीम मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स आमने सामने हुई। इस सीजन इससे पहले तक मुंबई 3 बार चेन्नई को हरा चुकी थी। ऐसे में मुंबई को इस फाइनल में चेन्नई पर बढ़े मनोबल के साथ आई थी। दूसरी ओर चेन्नई पिछली हार का बदला लेने को बेताब थी। लेकिन एक सांसे रोक देने वाली भिड़ंत के बाद चेन्नई केवल 1 रन से  पीछे छूट गयी।

MI vs CSKimage Source

हैदराबाद के राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने के फैसले के साथ सब को चौंका दिया। रोहित के इस फैसले के पीछे की बड़ी वजह ये थी कि इससे पहले जब 3 बार ये दोनो टीम फाइनल में भिड़ी थी, तब पहले ही बल्लेबाज़ी करने वाली टीम विजयी रही थी।

मुंबई ने प्लेइंग इलेवन में 1 बदलाव करते हुए जयंत यादव के स्थान पर मिचेल मैककलेन्घ्न को मौका दिया था। वहीं महेंद्र सिंह धोनी इस मैच में पिछले ही मैच वाली टीम के साथ आए थे।

  • मुंबई की बल्लेबाजी

Mumbai Indiansimage Source

मुंबई इंडियंस के लिए पारी की शुरुआत क्विंटन डी कॉक और रोहित शर्मा ने की। दोनो ने मुंबई को काफी तेज शुरुआत दिलवाई। पारी के तीसरे ओवर में गेंदबाज़ी करने आए चेन्नई के सबसे सफल गेंदबाज दीपक चहर को 20 रन लग गए। दीपक का यह आईपीएल में सबसे महंगा ओवर साबित हुआ। हालांकि इसके बाद पासा पलट गया। काफी तेजी से रन बना रहे क्विंटन डी कॉक 5वें ओवर में 45 के स्कोर पर 17 गेंद में 4 छक्के की मदद से 29 रन बना कर आउट हो गए।

मुंबई गहरी मुसीबत में तब फंस गई 45 के ही स्कोर पर रोहित शर्मा में 14 गेंद में 15 रन बना कर आउट हो गए। इसके बाद क्रीज़ पर पिछली बार बेहतरीन पारी खेलने वाले सूर्यकुमार यादव और ईशान किशन आए। इन दोनों ने विकेट तो बचाए रखा। लेकिन रन गति काफी कम हो गयी। 11.2 ओवर में 82 के स्कोर पर यादव 17 गेंद में 15 रन की धीमी पारी खेल कर आउट हो गए। जल्दी ही 89 पर 7 रन बना कर करुणाल पण्ड्या भी चलते बने।

इसके बाद ईशान किशन के भी 26 गेंद में 23 रन की धीमी पारी का अंत हो गया। इसके बाद हार्दिक और पोलार्ड ने स्कोर को कुछ गति दी। 140 पर आ कर हार्दिक 10 गेंद में 16 रन बना कर आउट हो गए। इसके लगातार विकेट जाते रहे। मुंबई इंडियंस 20 ओवर में 8 विकेट खो कर 149 रन बनाने में सफल रही। इस पारी में बड़ा योगदान बेहद कठिन समय पर पोलार्ड का रहा। पोलार्ड 25 गेंद में 3 चौके और 3 छक्के की मदद से 41 रन बना कर नाबाद रहे।

  • चेन्नई की गेंदबाजी

Chennai Super Kings Bowlingimage Source

पहले 4 ओवर में पीटने के बाद चेन्नई के गेंदबाजों ने बेहतरीन वापसी की। इसके बाद पूरी तरह मैच में ये हावी रहे। 1 ओवर में 20 रन देने के बाद भी दीपक चहर ने 4 ओवर में कुल 26 रन दिए। इसमें 1 मेडन भी रहा और 3 विकेट भी झटके। शार्दूल ठाकुर ने 4 ओवर में 37 रन दे कर 2 विकेट लिए। 3 ओवर में 23 रन दे कर इमरान ताहिर 2 विकेट लेते हुए इस सीजन कुल 26 विकेट अपने नाम कड़ते हुए पर्पल कैप पर भी कब्ज़ा जमा गए।

  • चेन्नई का रन चेज़

Shane Watsonimage Source

150 के लक्ष्य के सामने पारी की शुरुआत फिर से फॉफ डू प्लेसिस और शेन वाटसन ने की। दोनो ने सधी शुरूआत दिलाते हुए पहले विकेट के किए 4 ओवर में 33 रन जोड़े। पहला झटका प्लेसिस के रूप में लगा। प्लेसिस 13 गेंद में 3 चौके और 1 छक्के की मदद से 26 रन बनाए। इसके बाद क्रीज़ पर सुरेश रैना आए। रैना आज बिल्कुल भी लय में नही दिखे। एक बार आउट होने के बाद रिव्यु पर बच भी गए। फिर भी एक बेहद धीमी पारी खेल कर 14 गेंद में मात्र 8 रन बना कर निपट गए। हालांकि इस दौरान वाटसन ने तेज़ी से खेलते हुए स्कोर 70 रन कर दिया था।

इसके बाद चेन्नई के लिए मुश्किलें और तब बढ़ गईं जब रायुडू 3 रन बाद ही 1 रन बना कर आउट हो गए। अब सारा दारोमदार धोनी पर था। लेकिन बेहद करीबी तरीके से धोनी भी 82 पर रन आउट हो गए। इन्होंने 8 गेंद में केवल 2 रन बनाए। इसके बाद ड्वेन ब्रावो ने वाटसन के साथ मिल कर CSK को मैच में वापस लाया। लेकिन 133 पर ब्रावो 15 रन बना कर आउट हुए।

मैच अब बेहद रोमांचक स्तिथि में था। अंतिम ओवर में 9 रन कि ज़रूरत थी। वाटसन क्रीज़ पर थे। लेकिन चौथी गेंद पर ये रन आउट हो गए। इन्होंने 59 गेंद में 80 रन बनाए। अब 2 गेंद में 4 रन की ज़रूरत CSK को थी। गेंद मलिंगा के हाथ में थी। 5वीं गेंद पर शार्दूल ने 2 रन लिए। अंतिम गेंद पर जीत के लिए 2 और टाई के लिए 1 रन की ज़रूरत थी। लेकिन अंतिम गेंद पर मलिंगा ने शार्दूल को LBW कर दिया। इस तरह चेन्नई  20 ओवर में 7  खो कर 148 पर अटक गई। MI ने चेन्नई को लगातार इस सीजन चौथी बार हराते हुए चौथी पर IPL चैंपियन बन गयी।

  • मुंबई की गेंदबाजी

यह एक ऐसा मैच था, जिसमें कभी चेन्नई कभी MI हावी हो रही थी। हार और जीत के के बीच जसप्रीत बुमराह और राहुल चहर अंतर बन कर उभड़े। ध्वनि बेहद शानदार रहे। दोनो ने ही अपने कोटे में 14 – 14 रन दिए। बुमराह ने 2 और राहुल ने 1 विकेट लिए।

मलिंगा काफी महंगे रहे थे। लेकिन अंतिम ओवर में लास्ट गेंद पर विकेट ले कर आज के हीरो बन गए। मलिंगा ने 4 ओवर में 49 रन दिए। 1 विकेट करुणाल को भी मिला। मैककलेन्घ्न भी 24 रन दे कर शानदार रहे।

Also Check :

Leave a Reply

Your email address will not be published.