IPL 12 क्वालीफायर 1 : मुंबई फाइनल में, इस सीजन चेन्नई को लगातार तीसरी बार हराया

IPL 12 के लीग स्टेज की समाप्ति के बाद तथा एक दिन के आराम के बाद प्लेऑफ़ का रोमांच देखने को मिला। प्लेऑफ़ के पहले मुकाबले यानी क्वालीफायर 1 में  पॉइंट टेबल की टॉप दो टिमे, मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स आमने सामने हुई।mi vs csk match summary hindiImage Source

यह मुकाबला चेन्नई के घरेलू मैदान पर खेला जा रहा था। इस मैच में जितने वाली टीम का स्थान फाइनल में पक्का होना था। इस मौके को मुंबई इंडियंस ने शानदार ढंग से लपकते हुए फाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बन गयी।

टॉस

 

इस सीजन चेन्नई की बेहद मुश्किल साबित हुई विकेट पर मेज़बान टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। रोहित भी पहले बल्लेबाजी ही करना चाहते थे। दोनो ही टीम एक – एक बदलाव के साथ आई थी। चेन्नई ने चोटिल हो चुके केदार जाधव के स्थान पर मुरली विजय को और मुंबई ने मिचेल मैककलेन्घ्न की जगह स्पिनर जयंत यादव को मौका दिया था।

चेन्नई की बल्लेबाजी

MS DhoniImage Source

पहले ही ओवर में पिच ने रंग दिखाना शुरू कर दिया। पारी की शुरुआत करने आए फॉफ डू प्लेसिस और सेन वाटसन पहले 2 ओवर में केवल 6 रन जोड़ पाए। रोहित शर्मा ने पिच को भांपते दीसरे ही ओवर से स्पिनर को मोर्चे पर लगा दिया। इसका लाभ भी मुंबई को जल्दी मिल गया। तीसरे ओवर की पहली ही गेंद पर पिछले मैच में 96 रन जड़ने वाले प्लेसिस आउट हो गए।

CSK की हालात यहां से और भी खराब हो गई। पॉवर प्ले में केवल 32 रन आए और 3 महत्वपूर्ण विकेट भी गिर गए। प्लेसिस के बाद सुरेश रैना 12 के स्कोर पर 5 रन बना कर, और पॉवर प्ले की अंतिम गेंद पर सेन वाटसन 13 गेंद में 10 रन बना कर आउट हो गए। इनके बाद बल्लेबाज़ी करने आए मुरली विजय और अंबाती रायुडू ने विकेट गिरने के सिलसिले पर ब्रेक लगाया।

हालांकि दोनो टिके हुए थे, लेकिन रन तेज़ी से नही आ रहे थे। 12.1 ओवर मे इन दोनों की जोड़ी टूट गयी। यहां मुरली विजय 26 गेंद में 26 रन की धीमी पारी खेल कर आउट हो गए। इसके बाद क्रीज़ पर धोनी आएं। यहां से अब भी पारी में काफी गेंदे बची थी। ऐसे में उम्मीद थी के धोनी रायुडू मिल कर कम से कम 150 के पार टीम के ले जाएंगे। लेकिन ऐसा नही हो सका। धोनी और रायुडू नाबाद लौटे लेकिन टीम 20 ओवर में 4 विकेट खो कर केवल 131 रन बना पाई। रायुडू 37 गेंद में 42 और धोनी ने 3 छक्के के सहारे 29 गेंद में 37 रन बनाए।

मुंबई की गेंदबाजी

Rahul ChaharImage Source

इस पारी में पूरी तरह से स्पिनर्स का जलवा रहा। राहुल चहर ने 4 ओवर में मात्र 14 रन दे कर 2 विकेट लिए। जयंत यादव को 4 ओवर में 25 र दे कर 1 विकेट मिला। 4 ओवर में 21 रन दे कर 1 विकेट लिए। मलिंगा को 3 ओवर में 26 रन दे कर सुर जसप्रीत बुमराह को 4 ओवर में 31 रन दे कर कोई विकेट नही मिला। हार्दिक भी 2 ओवर में 13 रन दे कर कोई विकेट नही ले सके।

मुंबई का रन चेज़

Suryakumar YadavImage Source

मुंबई के सामने 132 का लक्ष्य इसकी बल्लेबाज़ी को देखते हुए मुश्किल नही लग रहा था। लेकिन दूसरी ओर चेन्नई का विकेट और CSK के स्पिनर इस स्कोर को बड़ा साबित कर सकते हैं। चेन्नई ने शुरुआत भी कुछ उस अंदाज़ में ही किया जैसे कि मुंबई ने किया था। MI को पहला ही तगड़ा झटका सिर्फ 4 रन पर मैच की दूसरी ही गेंद पर लग गया। यहां रोहित 4 रन बना कर आउट हो गए।

टीम इस झटके से संभली भी नही थी कि 12 गेंद में 8 रन बना कर क्विंटन डी कॉक 21 के स्कोर पर चौथे ओवर में आउट हो गए। फिर भी पॉवर प्ले में चेन्नई सूर्यकुमार यादव और ईशान किशन की बल्लेबाजी के दम पर 44 रन जोड़ने में सफल रहा।  सूर्यकुमार यादव और ईशान किशन ने यहां से पारी काफी अच्छे से आगे बढ़ाई।

दोनो ने आराम से खेलते हुए धीरे धीरे मैच चेन्नई की ओर मोड़ दिया। दोनो के बीच तीसरे विकेट के लिए 80 रन की बेहद महत्वपूर्ण साझेदारी हुई। इस जोड़ी का अंत किशन के विकेट से हुआ। वह 101 पर 14वें ओवर की 5वी गेंद ओर 31 गेंद में 28 रन बना कर लौटे। अगली ही गेंद पर करुणाल अपना खाता खोले बिना आउट हो गए। इससे उम्मीद फिर CSK के लिए जगी।

लेकिन इसी बीच अपना अर्धशतक पूरा कर रहे सूर्यकुमार यादव और हार्दिक पांड्या ने 18.3 ओवर में 132 रन बना कर MI को फाइनल का टिकट दिलवा दिया। सूर्यकुमार यादव एक बसर फिर CSK के खिलाफ शानदार बल्लेबाजी करते हुए 54 गेंद में 10 चौके की मदद से 71 रन बना कर हार्दिक 13 रन के साथ नाबाद रहे। MI 5वीं बार फाइनल में पहुंची है। बता दें कि इस हार के साथ ही CSK को लगातार 4 मैच में हराने वाली MI इकलौती टीम बन गई है। अब CSK 9 मई को एलिमिनेटर की विजेता टीम से भिड़ेगी।

Also Check: IPL 12 एलिमिनेटर : दिल्ली कैपिटल्स vs सनराइजर्स हैदराबाद मैच प्रिडिक्शन

चेन्नई की गेंदबाजी

Imran TahirImage Source

शुरुआत तो दीपक चहर और हरभजन सिंह ने काफी अच्छी दिलवाई। लेकिन इसके बाद बीच के ओवर में कोई विकेट नही आ सका। दीपक ने 3.3 ओवर में 30 रन दे कर 1 और हरभजन ने 4 ओवर में 25 रन दे कर 1 विकेट लिए। इमरान ताहिर 4 ओवर में 33 रन दे कर 2 विकेट चटकाए। जडेजा ने 4 ओवर में सिर्फ 18 रन दिए लेकिन इन्हें विकेट नही मिल सका। ब्रावो को भी 3 ओवर में 25 रन दे कर सफलता हाथ नही लगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.