वुमन आईपीएल: वुमन आईपीएल का शानदार आगाज़, रोमांचक मुकाबले में ट्रेलब्लेजर्स की जीत

Trailblaze vs Supernova match summary

आईपीएल की कामयाबी के बाद अब महिला आईपीएल के बड़े स्तर पर शुरुआत के लिए प्रयासरत भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने इस ओर एक कदम और बढ़ाते हुए कुछ ही दिन पहले महिला आईपीएल की घोषणा की थी। इस टूर्नामेंट में 3 टीम भाग ले रही हैं। जिनके बीच फाइनल समेत कुल 4 मुक़ाबले खेले जाने हैं।

इसमें भाग ले रही टिमें स्मृति मंधाना की कप्तानी में ट्रेलब्लेजर्स, हरमनप्रीत कौर की कप्तानी वाली सुपरनोवाज़ और मिताली राज की कप्तानी वाली वेलोसिटी हैं। इसके सभी मैच जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में खेले जाने हैं। फाइनल 11 मई को होगा। खास बात यह है कि टूर्नामेंट में विदेशी महिला खिलाड़ी भी खेलती नज़र आएंगी। 

इसी क्रम में टूर्नामेंट के पहले मुक़ाबले में ट्रेलब्लेजर्स और सुपरनोवाज़ की टीम आमने सामने हुई। यह पहला मौका था जब यह लीग ICC के मापदंडों पर खेला जा रहा है। इस पिछले साल इसी तरह का 1 मैच खेला गया था। 

टॉस

सुपरनोवाज़ की कप्तान हरमनप्रीत कौर ने टॉस जीत कर पहले गेंदबाज़ी करने का फैसला किया। सुपरनोवाज़ कि ओर से विदेशी खिलाड़ी के रूप में श्रीलंका की चमारी अटापट्टू, न्यूजीलैंड की ऑलराउंडर सोफी डिवाइन और गेंदबाज़ लिया ताहूहू खेल रही थीं। 

वहीं ट्रेलब्लेजर्स की ओर से कप्तान स्मृति मंधाना के साथ विदेशी खिलाड़ी के रूप में वेस्टइंडीज की धाकड़ बल्लेबाज स्टेफनी टेलर, न्यूज़ीलैंड की सूज़ी बेट्स, इंग्लैंड की सोफी एकल्सटन और वेस्टइंडीज की गेंदबाज शकीरा सेलमन खेल रही थी। 

ट्रेलब्लेजर्स की बल्लेबाजी

Trailblaze battingImage Source

टॉस हार कर बल्लेबाज़ी करने आई ट्रेलब्लेजर्स की ओर से पारी की शुरुआत सूज़ी बेट्स और भारतीय महिला टीम की धाकड़ बल्लेबाज स्मृति मंधाना आई। शुरुआत खास नही रह पाई। पहला झटका केवल 11 रन पर दूसरे ओवर में सूज़ी बेट्स के रूप में लग गया। लेकिन इसके बाद बल्लेबाज़ी करने आई हरलीन देवल ने स्मृति का अच्छा साथ दिया। 

पॉवर प्ले में कुल 25 रन आए। इन दोनों ने बेहतरीन बल्लेबाज़ी करते हुए टीम को कोई और झटका जल्दी नही लगने दिया। स्मृति जम कर गेंदबाजों की खबर ले रही थीं। इन्होंने हरलीन के साथ मिल कर 119 रह की बेहतरीन साझेदारी की। हरलीन थोड़ी धीमी रही। ये 130 के स्कोर ओर 18.2 ओवर में 44 गेंद में 3 चौके के सहारे 36 रन बनाए। 

इसके बाद शतक की ओर बढ़ती दिख रही मंधाना 137 के स्कोर पर 19.2 ओवर में आउट हो गयी। वह शतक से 10 रन पिछे रह गईं। इन्होंने 67 गेंद ने 10 चौके और 3 छक्के की मदद से 90 रन की बेहतरीन पारी खेली। इस पारी की मदद से ट्रेलब्लेजर्स 20 ओवर में 5 विकेट खो कर 140 रन बनाने में सफल रही। 

सुपरनोवाज़ की गेंदबाज़ी

सुपरनोवाज़ की गेंदबाजी सधी हुई रही। इन्होंने अधिक रन नही लुटाए। गेंदबाज अंजू पाटिल ने 4 ओवर में 1 मेडन रखते हुए 12 रन दे कर 1 विकेट लिए। राधा यादव ने 4 ओवर में 28 रन दे कर 2 विकेट लिए। सोफी डिवाइन को 4 ओवर में 27 रन दे कर 1 विकेट मिला। 

सुपरनोवाज़ का रन चेज़

Supernova battingImage Source

इसके सामने 141 का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य था। लेकिन हरमनप्रीत कौर और अट्टापट्टू जैसी बल्लेबाज के सामने यह ज़्यादा मुश्किल नही लग रहा था। सुपरनोवाज़ कि भी शुरुआत कुल मिला कर ट्रेलब्लेजर्स जैसी ही रही। इसने भी अपना पहला विकेट 1.3 ओवर में ही 6 के स्कोर पर प्रिया पुनिया के रूप में गंवा दिया। ये केवल 1 रन बना कर चली गईं। 

इसके बाद जेमिमा रोड्रिग्ज और चमारी अट्टापट्टू ने पॉवर प्ले में तेज़ी से बल्लेबाज़ी करते हुए 42 रन जोड़ लिए। टीम 50 के पार जा चुकी थी। और दोनो अच्छी बल्लेबाज़ी कर रहीं थी। तभी 8वें ओवर की अंतिम गेंद पर 55 के स्कोर पर जेमिमा 19 गेंद में 24 रन बना कर और 63 के स्कोर चमारी अट्टापट्टू 34 गेंद में 26 रन बना कर आउट हो गईं। टीम अभी संभली भी नही थी के 74 पर केवल 1 रन बना कर नटाली सीवर भी आउट हो गईं। 

यहां से सुपरनोवाज़ के लिए मुश्किल बढ़ती नज़र आने लगी। लेकिन हरमनप्रीत कौर के साथ मिल कर सोफी डिवाइन ने तेज़ी से रन जोड़ कर मैच में इसे वापस ला दिया। सीवर 22 गेंद में 2 चौके और 2 छक्के की मदद से 32 रन बना कर 122 पर आउट हुईं। 19वें ओवर से केवल 2 रन आए। और इनका विकेट भी गया।

अंतिम ओवर में जीत के लिए 19 रन की ज़रूरत सुपरनोवाज़ को थी। हरमनप्रीत ने पहली 2 गेंद पर और और चौथी तथा पांचवी गेंद पर चौका जड़ कर मैच रोमांचक कर दिया। अंतिम गेंद पर जीत के लिए 3 रन की ज़रूरत थी। फिर से एक बड़े शॉट की उम्मीद थी। लेकिन अंतिम गेंद पर बड़ा शॉट नही आ सका। साथ ही ताहूहू रन आउट भी हो गई। सुपरनोवाज़ 20 ओवर में 6 विकेट खो कर 138 रह ही बना पाई। इस तरह यह मैच ट्रेलब्लेजर्स के नाम हो गया। स्मृति मंधाना प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया। 

ट्रेलब्लेजर्स की गेंदबाजी

सबसे सफल गेंदबाज सोफी एकल्सटन रहीं। इन्होंने 4 ओवर में केवल 11 रन दे कर 2 विकेट लिए। 2 विकेट 4 ओवर में 17 रन दे कर राजेश्वरी गायकवाड़ ने भी लिया। दीप्ती शर्मा को 2 ओवर में 27 रन, झूलन गोस्वामी को 3 ओवर में 31 रन पड़े। 

Also Check:

Leave a Reply

Your email address will not be published.